Navsatta
खास खबरफाइनेंसव्यापार

नहीं रहे शेयर बाजार के ”बिग बुल” राकेश झुनझुनवाला, 62 साल की उम्र में हुआ निधन

नई दिल्ली,नवसत्ता: शेयर बाजार के दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला का निधन हो गया है. भारत के वॉरेन बफेट कहे जाने झुनझुनवाला का ‘नेटवर्थ’ 5.8 अरब डॉलर (46,000 करोड़ रुपये) था. 62 साल के झुनझुनवाला का आज सुबह दिल का दौरा पड़ गया. ब्रीच कैंडी अस्पताल में उन्हें भर्ती कराया गया था. उनके निधन की खबर से सब अचंभित हैं. स्टॉक मार्केट में निवेश करने वाले झुनझुनवाला ने महज 5 हजार रुपये से हजारों करोड़ की संपत्ति खड़ी कर दी थी.

फर्श से अर्श तक का सफर तय किया

राजस्थान के झुंझुनूं जिले के मारवाड़ी अग्रवाल बनिया परिवार से आने वाले झुनझुनवाला ने अपने बिजनेस कौशल और समझ से फर्श से अर्श का सफर तय किया. राकेश झुनझुनवाला का परिवार मूलरूप से झुंझुनूं से करीब 42 किलोमीटर दूर बसे मलसीसर कस्बे का रहने वाला था. मलसीसर से राकेश के दादा उस दौर में अपने परिवार के साथ उत्तर प्रदेश के कानपुर आकर बस गए थे जिसके बाद यहां से उन्होंने सिल्वर का बिजनेस शुरू किया. अपने काम से दुनियाभर में पहचान बनाने वाले झुनझुनवाला अपने परिवार के साथ फिलहाल मुम्बई में रहते थे.

राकेश झुनझुनवाला का परिवार

”किंग ऑफ दलाल स्ट्रीट” के नाम से मशहूर राकेश झुनझुनवाला के पिता का नाम राधेश्यामजी झुनझुनवाला था. वह आयकर विभाग में अफसर थे. उनकी माता का नाम उर्मिला झुनझुनवाला था, जो कि एक गृहणी थीं. उनके बड़े भाई राजेश चार्टेड अकाउंटेंट थे, वहीं दो बहनें भी हैं. उनकी शादी रेखा झुनझुवाला से हुई. दोनों की तीन बच्चे हैं. राकेश झुनझुनवाला की बेटी का नाम निश्था और दो बेटे आर्यमन व आर्यवीर हैं.

राकेश झुनझुनवाला की नेट वर्थ

राकेश झुनझुनवाला की 1988 में नेटवर्थ एक करोड़ रुपये थी. उनकी नेटवर्थ में हर साल बढ़ोतरी होती गई. 1993 में उनकी नेटवर्थ 200 करोड़ हो गई. 2021 में एक रिपोर्ट के मुताबिक, राकेश झुनझुनवाला की नेट वर्थ 4.6 बिलियन डॉलर यानी 34,387 करोड़ रुपए के आस-पास थी. वहीं वर्तमान में उनकी कुल संपत्ति 43.39 हजार करोड़ रुपये बताई जा रही है. खास बात यह है कि इस साल झुनझुनवाला ने अपनी एयरलाइन कंपनी अकाशा एयर को लॉन्च किया था, जिसमें सबसे बड़ी शेयर धारक उनकी पत्नी रेखा हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जताया शोक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झुनझुनवाला के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उन्होंने आर्थिक जगत में अपनी अमिट छाप छोड़ी है. जानें- कैसे उन्होंने 5000 रुपए के निवेश से शुरुआत करके अपनी नेटवर्थ को 46 हजार करोड़ के पार पहुंचाया.

संबंधित पोस्ट

नोएडा बाइक बोट घोटाले की जांच अपने हाथ में ले सकती है सीबीआई

navsatta

राष्ट्रपति नहीं, फिर मुख्यमंत्री बनना चाहती हैं मायावती

navsatta

थाने के अंदर युवक ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, पुलिसकर्मियों पर टॉर्चर करने का आरोप

navsatta

Leave a Comment