Navsatta
खास खबरचर्चा मेंदेशमुख्य समाचारस्वास्थ्य

दो कोरोना वैक्सीन के साथ-साथ एंटी वायरल दवा को मिली मंजूरी

नई दिल्ली,नवसत्ता: देश में कोरोना वायरस को पूरी तरह हराने के लिए दो और वैक्सीन को मंजूरी मिल गई है. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के तहत आने वाले केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन ने कोविड-19 वैक्सीन कोवोवैक्स और कॉर्बेवैक्स और एंटी-वायरल दवा मोलनुपिरावीर को आपातकालीन उपयोग की मंजूरी दे दी है. इस बात की जानकारी स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर मनसुख मंडाविया ने दी है.

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है, कॉर्बेवैक्स भारत में बनी पहली ‘आरबीडी प्रोटीन सब-यूनिट वैक्सीन’ है. इसे हैदराबाद की कंपनी बायोलॉजिकल-ई ने बनाया है. उन्होंने खुशी जताते हुए कहा, ‘यह हैट्रिक है! अब यह भारत में विकसित हुई तीसरी वैक्सीन बन गई है.’ नैनोपार्टिकल वैक्सीन कोवोवैक्स का निर्माण पुणे स्थित कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया में किया जाएगा.

मोलनुपिरावीर अब देश की 13 कंपनियों में बनेगी
स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर मनसुख मंडाविया ने बताया है, एंटी वायरल दवा मोलनुपिरावीर अब देश की 13 कंपनियों में बनेगी. जो कोविड-19 के वयस्क मरीजों को इलाज के लिए आपातकालीन स्थिति में दी जाएगी. दवा उन्हें ही मिलेगी, जिनमें बीमारी के बढऩे का अधिक जोखिम होगा.

इस दवा को कोविड-19 के खिलाफ बेहद प्रभावी माना जाता है. शोध में पता चला है कि 14 दिनों की निगरानी के दौरान जिन लोगों की मानक देखभाल हुई, उनकी तुलना में ऐसे मरीजों को अस्पताल में भर्ती करने की बहुत कम जरूरत पड़ी, जिन्हें मोलनुपिरावीर दवा दी गई थी.

संबंधित पोस्ट

राजस्थान: परीक्षार्थियों से भरी वैन और ट्रेलर की भिड़ंत, छह की मौत

navsatta

ओलंपिक मेडल से चूकीं अदिति अशोक, लेकिन भारतीय गोल्फ में रचा इतिहास

navsatta

बेटी की जान बचाने के लिये पिता का वीरतापूर्ण बलिदान, अपनी आंत का 150 सेमी किया दान

navsatta

Leave a Comment