Navsatta
खास खबरचर्चा मेंदेशमुख्य समाचारराजनीतिराज्य

राहुल गांधी की दो टूक, बोले-‘अगर हिंदू हो तो आपको हिंदुत्व की क्या जरुरत’

भाजपा व आरएसएस ने नफरत फैला दी, जबकि हमारी विचारधारा प्यार और भाईचारे की है: राहुल

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पार्टी के डिजिटल जन जागरण अभियान का किया उद्घाटन

नई दिल्ली,नवसत्ता: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आज पार्टी के डिजिटल जन जागरण अभियान का उद्घाटन किया. देश में हिंदुत्व को लेकर जारी विवाद के बीच उन्होंने कहा कि हिंदुत्व और हिंदू धर्म अलग-अलग हैं. अगर हिंदू हो तो आपको हिंदुत्व की क्या जरुरत. राहुल गांधी ने बीजेपी और आरएसएस पर हमला करते हुए कहा कि हिंदुस्तान में बीजेपी-आरएसएस ने नफरत फैला दिया है जबकि हमारी विचारधारा प्यार और भाईचारे की है.

राहुल ने कहा, आखिर हिदू धर्म और हिंदुत्व में क्या अंतर है, क्या वे एक ही बातें हैं. अगर वे एक ही बात हैं, तो हम उनके लिए एक जैसा नाम क्यों नहीं इस्तेमाल करते? ये जाहिर तौर पर दो अलग-अलग चीजें हैं. क्या हिंदू धर्म किसी सिख या मुस्लिम को मारना है, लेकिन हिंदुत्व का यही काम है.

राहुल ने भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, हमें चाहे यह पसंद हो या नहीं, लेकिन भाजपा-संघ की नफरत वाली विचारधारा कांग्रेस की प्यार और राष्ट्रवाद वाली विचारधारा पर भारी पड़ी है. हमें यह मानना होगा.
उन्होंने आगे कहा कि विचारधारा की जो लड़ाई थी वो फोकस्ड नहीं थी, लेकिन आज के हिंदुस्तान में विचारधारा की लड़ाई सबसे जरुरी लड़ाई हो गई है. ये जो विचारधारा है इसको हम कांग्रेस की विचारधारा कहते हैं और यह हमसे बहुत पुरानी है.
राहुल गांधी ने यह भी कहा कि जिस शक्ति को हम शिव कहते हैं वो इसका प्रतीक थे. कबीर, गुरुनानक, महात्मा गांधी बहुत सारे लोगों ने इस विचारधारा को अपनाया, और फैलाया. उनके भी अपने आदर्श हैं और हमारे भी. उनके आदर्श सावरकर हैं तो हमारे महात्मा गांधी हैं.

हम अपनी विचारधारा लोगों तक नहीं पहुंचा पा रहे
राहुल ने आगे कहा, हमारी विचारधारा अभी भी जिंदा है, जीवंत है, लेकिन इसका प्रभाव कुछ कम हुआ है. उन्होंने पार्टी की विचारधारा आगे बढ़ाने पर जोर देते हुए कहा कि इसका प्रभाव कम इसीलिए हुआ है, क्योंकि हम इसका अपने ही लोगों के बीच ठीक से प्रसार नहीं कर पाए. आज बदलाव का समय है. हमें यह औजार हमें हर कार्यकर्ता को देना है. कार्यकर्ता विचारधारा को कोने-कोने तक लेकर जाएं. आप ही कांग्रेस पार्टी हो.

सलमान खुर्शीद की किताब से उठा विवाद
गौरतलब है कि सलमान खुर्शीद ने अपनी नई किताब में हिंदुत्व की विचारधारा की तुलना आईएसआईएस और बोको हरम जैसी जिहादी इस्लामिक विचारधारा से की थी. इसे लेकर भाजपा लगातार कांग्रेस पर हमलावर है. एक दिन पहले ही भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने मामले पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से जवाब मांगा था.

संबंधित पोस्ट

डिनो जेम्स ने किया ‘लॉस्ट’ के साथ डेफ जैम इंडिया में डेब्यू

navsatta

यूरोप और मिडिल ईस्ट तक पहुंचेगा कन्नौज का इत्र

navsatta

अपराधियों पर करें सख्त कार्रवाई, कोताही बर्दाश्त नहीं : सीएम योगी

navsatta

Leave a Comment