Navsatta
अपराध खास खबर चर्चा में मुख्य समाचार राजनीति राज्य

किसान मोर्चा का ऐलान, 18 को देशभर में ‘रेल रोको’ आंदोलन

दशहरा के मौके पर पीएम मोदी व गृह मंत्री अमित शाह का जलाया जाएगा पुतला

लखीमपुर खीरी,नवसत्ता : यूपी के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा की घटना को लेकर किसान मोर्चा ने देशव्यापी आंदोलन का ऐलान किया है. किसान नेता जोगिंदर सिंह उगराहां ने आरोप लगाया कि सरकार ने प्रदर्शनकारी किसानों के खिलाफ हिंसक रुख अपनाया है. हम हिंसा की राह पर नहीं जाएंगे. उन्होंने कहा कि हमारी मांग है कि केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा और उनके बेटे आशीष को गिरफ्तार किया जाए.

वहीं किसान नेता योगेंद्र यादव ने लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर केंद्रीय मंत्री को पद से हटाने और उनकी गिरफ्तारी की मांग उठाई. उन्होंने कहा कि 15 अक्टूबर को दशहरा के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह का पुतला जलाया जाएगा. संयुक्त किसान मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव ने कहा कि लखीमपुर खीरी हिंसा के विरोध में 18 अक्टूबर को ‘रेल रोको’ आंदोलन किया जाएगा.

इतना ही नहीं किसान नेताओं ने कहा कि लखीमपुर खीरी घटना पहले से रची गई साजिश का हिस्सा है. उन्होंने (हमलावरों) ने किसानों को आतंकित करने की कोशिश की. किसान नेता दर्शन पाल ने कहा कि इस रवैये के खिलाफ किसान मोर्चा आगामी 26 अक्टूबर को लखनऊ में महापंचायत का आयोजन करेगा. सभी किसान नेताओं ने लखीमपुर की घटना में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री के शामिल होने का आरोप लगाते हुए उन्हें पद से हटाने की मांग की.

Advertisement

करीब एक दर्जन से ज्यादा पेन ड्राइव लेकर क्राइम ब्रांच के दफ्तर पहुंचे आशीष मिश्र
आपको बता दें कि इस मामले में आज घटना का प्रमुख आरोपी आशीष मिश्रा लखीमपुर क्राइम ब्रांच के सामने पेश हुआ. सुबह 11 बजे से पहले आशीष मिश्रा और उसके वकील क्राइम ब्रांच पहुंचे. क्राइम ब्रांच की टीम आरोपी आशीष मिश्रा से पूछताछ कर रही है. बताया जा रहा है कि आशीष मिश्र करीब एक दर्जन से ज्यादा पेन ड्राइव लेकर क्राइम ब्रांच के दफ्तर पहुंचे हैं. सूत्रों के मुताबिक इन पेन ड्राइव में वह सभी वीडियोज हैं जो उनकी मौजूदगी साबित करेंगे की घटना के वक्त वह कहां मौजूद थे.

अगर आठ दिन में आरोपी अरेस्ट नहीं हुए तो करेंगे आंदोलन: राकेश टिकैत
इससे पहले भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने सभी आरोपियों की गिरफ्तारी के संबंध में राज्य सरकार को चेतावनी दी है. टिकैत ने कहा, अगर आठ दिन में आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो आंदोलन करेंगे. हमने 12 तारीख तक का समय दिया है. 12 अक्टूबर को बैठक है उसके बाद हम अगला फैसला लेंगे.

बीकेयू नेता राकेश टिकैत ने केंद्रीय मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी की मांग की है. मालूम हो कि तिकोनिया थाने में हुई घटना में केंद्रीय मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा समेत अन्य के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302 (हत्या) में प्राथमिकी दर्ज की गई है. टिकैत ने लखीमपुर शहर के एक गुरुद्वारे में मीडियाकर्मियों से कहा, हमारा विरोध खत्म नहीं हुआ है. हम समझौते के आठ दिन बाद तक इंतजार करेंगे और अगर मांगें पूरी नहीं हुई तो आंदोलन शुरू किया जाएगा.

Advertisement

गौरतलब है कि आशीष मिश्रा की इस घटना में संलिप्तता संबंधी आरोपों उनके पिता और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी ने साफ-साफ कहा कि उनका बेटा इस घटना में शामिल नहीं है. इधर, पुलिस ने घटना से जुड़े अंकित दास के ड्राइवर समेत दो लोगों को आज लखनऊ से हिरासत में लिया है. इसके अलावा इस मामले में अंकित दास की तलाश की जा रही है.

Advertisement
After content

संबंधित पोस्ट

बुजुर्ग की हत्या को बिजली गिरने से मौत बता रहे थानेदार निलंबित

navsatta

रायबरेली – कोरोना की स्थिति दिनांक: 15 अप्रैल 2021

navsatta

शिवगढ़ में सफाईकर्मियों का कार्य बहिष्कार तीसरे दिन भी जारी,क्षेत्रीय विधायक से मुलाकात कर सौंपा ज्ञापन

navsatta

Leave a Comment