Navsatta
Reabareliखास खबर

सोनिया गांधी पर कहीं भारी न पड़ जाए नगरपालिका अध्यक्ष का नाकारापन !

रायबरेली,( सुरेश पाण्डेय):– लोकसभा चुनाव में अब कुछ माह का समय ही शेष है। अभी तक की जानकारी के मुताबिक एक बार फिर कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ही यहां से चुनाव लड़ेंगी। ऐसे में कांग्रेस के नगर पालिका चैयरमैन के नाकारेपन के कारण शहरवासियों की नाराजगी का शिकार उन्हें भी होना पड़ सकता है। शहर की समस्याओं और नगर पालिका अध्यक्ष शत्रोहन सोनकर के प्रति लोगों की बढ़ती नाराजगी से सांसद सोनिया गांधी भी अंजान नहीं हैं। यही कारण है कि उन्होंने अपने प्रतिनिधि किशोरी लाल शर्मा को भेजकर न केवल नगरपालिका अध्यक्ष के जनविरोधी फैसले रूकवाये बल्कि शत्रोहन सोनकर को जनसमस्याओं के शीघ्र हल करने की सख्त हिदायत भी दी है।

नगरपालिका की यह सीट कांग्रेस ने भाजपा प्रत्याशी को हराकर जीती थी। उस समय कांग्रेस प्रत्याशी के तौर पर शत्रोहन सोनकर ने हाथ पैर जोड़कर जनता से उनकी समस्याओं को दूर करने के लिए 24 घण्टे तत्पर रहने का वादा किया था। जनता ने कांग्रेस प्रत्याषी के वादों पर भरोसा कर चुनाव जिता दिया। चुनाव जीतने के बाद से ही नगर पालिका अध्यक्ष अपना रंग दिखाने लगे हैं। जनता की समस्याओं को दूर करने के बजाय वे ही जनता से दूर हो गये हैं। कार्यालय में मिलना तो देर अब वे लोगो के फोन तक उठाने में गुरेज कर रहे हैं।

शहर में इस समय हर जगह गंदगी के ढेेर देखे जा सकते हैं। आधा से ज्यादा शहर खुदा पड़ा है। लोगों का चलना दूभर है। इन समस्याओं को देर करने के बजाय नगरपालिका अध्यक्ष अलग ही खेल करने में लगे हैं। जनसम्याओं को दूर करने के बजाय उनकी नजर शहर की सबसे प्रमुख मार्केट गुरू तेग बहादुर मार्केट पर गड़ गई है। गत 13 तारीख को बोर्ड में एक प्रस्ताव पास कराया गया कि इस मार्केट को ध्वस्त कर यहां पर भव्य मल्टी स्टोरी मार्केट बनाई जाएगी। जाहिर है करोड़ों के टेण्डर होते और नवनिर्माण के नाम पर खेल किया जाता। इस खबर की जानकारी होते ही मार्केट के व्यापारी आक्रोशित हो गये और उन्होंने इसकी शिकायत कांग्रेस हाई कमान से की।

कांग्रेस सांसद सोनिया गांधी ने स्थिति की गंभीरता को देखते हुए तत्काल सांसद प्रतिनिधि किशोरी लाल शर्मा को यहां भेज कर व्यापारी नेताओं को आश्वस्त कराया कि नगरपालिका अध्यक्ष ऐसा कुछ नहीं करेंगे। बीते शुक्रवार को बकायदा एक संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर सांसद प्रतिनिधि किशोरी लाल शर्मा ने बताया कि गुरू तेग बहादुर मार्केट का ध्वस्तीकरण कतई नहीं किया जाएगा। अलबत्ता मार्केट के उन हिस्सों का जीर्णोद्वार होगा, जो जर्जर है। सू़त्रों के मुताबिक सांसद प्रतिनिधि ने नगर पालिका अध्यक्ष शत्रोहन सोनकर से विवादों से दूर रहते हुए जनता की समस्याओं को दूर करने की सख्त हिदायत दी है। जाहिर है कि कांग्रेस आलाकमान को भी पता है कि अगर नगर पालिका अध्यक्ष का रवैया ऐसा ही रहा तो आने वाले चुनाव में उन्हें भी जनता की नाराजगी झेलनी पड़ सकती है।

संबंधित पोस्ट

सीएम योगी का फरमान, 3 माह के भीतर सभी मंत्री घोषित करें अपनी संपत्ति

navsatta

लालू प्रसाद यादव की हालत नाजुक, पीएम मोदी समेत कई दिग्गज नेताओं ने जाना हाल

navsatta

संसद भवन परिसर में धरना प्रदर्शन व भूख हड़ताल पर रोक

navsatta

Leave a Comment