Navsatta
खास खबरदेश

हिमाचल प्रदेश: प्रधानमंत्री ने 11000 करोड़ की परियोजनाओं की सौगात दी, बोले-बढ़ेंगे रोजगार के अवसर

मंडी,नवसत्ता: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश में भाजपा सरकार के चार साल पूरे होने के अवसर पर एक रैली को संबोधित किया. इसके साथ ही यहां 11,000 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया.

मोदी का हेलिकॉप्टर करीब 11:30 बजे कांगणीधार हेलीपैड पर उतरा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हेलिकॉप्टर करीब 11:30 बजे कांगणीधार हेलीपैड पर उतरा. पीएम मोदी के पहुंचते ही छोटी काशी वाद्ययंत्रों से गूंज उठी. जहां मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने पीएम मोदी का स्वागत किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंडी पहुंचने के बाद प्रदर्शनी का अवलोकन किया.

इन्वेस्टर्स मीट की दूसरी ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी का किया शुभारंभ
पीएम मोदी ने इन्वेस्टर्स मीट की दूसरी ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी का शुभारंभ किया. वहीं केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने इस मौके पर जनता को संबोधित करते हुए पीएम मोदी का आभार जताया. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने बिन मांगे प्रदेश को बहुत कुछ दिया है. मेडिकल कॉलेज से लेकर, आईआईएम और केंद्रीय विद्यालय देने के लिए पीएम का आभार जताया.

भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर ने कहा
मंच से मंडी में भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर ने कहा कि पीएम मोदी ने हिमाचल प्रदेश को बहुत कुछ दिया है. उनके नेतृत्व में राज्य में एम्स, पीजीआई और कई अस्पताल स्थापित किए गए हैं. आज मैं सीएम जयराम ठाकुर को सरकार के चार साल पूरे होने पर बधाई देता हूं. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का निर्माण करवाने का काम किया. सोमनाथ को भव्य रूप दिया; रामलला की जन्मभूमि पर भव्य मंदिर का निर्माण करवाया…मोदी है तो मुमकिन है…

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा
हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि जब भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हमारे प्रदेश में आते हैं तो ऐसा लगता है कि कोई अपना आया है. अपने होने का एहसास आपकी हर बात दिलाने का काम करती है. आज मंडी आते हुए रास्ते में पार्टी के पुराने साथियों का हाल प्रधानमंत्री ने पूछा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिमाचल सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं पर बनाई गई कॉफी टेबल बुक का लोकार्पण किया.

ठाकुर ने कहा कि मंडी को ‘छोटी काशी’ कहा जाता है, क्योंकि यहां 300 से अधिक प्राचीन मंदिर हैं. हम भी यूपी की ‘काशी’ की तर्ज पर मंडी को विकसित करने की कोशिश कर रहे हैं. सीएम ने अटल टनल का भी जिक्र किया और कहा कि पीएम मोदी के प्रयासों से ये टनल बन पाई है जिसे देखने देश-दुनिया से लोग पहुंच रहे हैं.

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन की शुरूआत पहाड़ी भाषा में की
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 11 हजार करोड़ रुपए से अधिक की परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया. इनमें सावड़ा कुड्डू, रेणुका बांध, धौला सिद्ध, परियोजनाएं शामिल हैं. पीएम मोदी ने अपने संबोधन की शुरूआत पहाड़ी भाषा में की और लोगों का आभार जताया. पीएम ने कहा कि हिमाचल की धरती ने मेरे जीवन को दिशा देने में अहम भूमिका निभाई है.

पीएम मोदी ने कहा कि जयराम जी और उनकी परिश्रमी टीम ने हिमाचल वासियों के सपनों को पूरा करने के लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी है. इन 4 वर्षों में 2 साल हमने मजबूती से कोरोना से भी लड़ाई लड़ी है और विकास के कार्यों को भी रुकने नहीं दिया.

भीड़ बता रही है 4 साल के कामों की गति
पीएम ने आगे कहा कि डबल इंजन की सरकार के 4 साल पूरे हुए हैं. ये भीड़ बता रही हैं कि आपने 4 साल में हिमाचल को तेज़ गति से आगे बढ़ते हुए देखा. हमने 4 साल में मज़बूती से कोरोना से लड़ाई लड़ी है, हिमाचल को पहला एम्स मिला, 4 नए मेडिकल कॉलेज स्वीकृत हुए. पीएम मोदी ने कहा कि प्लास्टिक से पहाड़ों को होने वाले नुक़सान को लेकर सरकार सतर्क है. सिंगल यूज़ प्लास्टिक के खिलाफ़ देशव्यापी अभियान के साथ-साथ सरकार प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट पर भी काम कर रही है.

राज्य में दो विकास मॉडल हैं
पीएम ने कहा कि हमारी सरकार ने 3 जनवरी, 2022 से 15-18 वर्ष के बच्चों के लिए कोरोना टीकाकरण और 10 जनवरी से स्वास्थ्य कर्मियों और कॉमरेडिडिटी वाले वरिष्ठ नागरिकों के लिए ‘एहतियाती खुराक’ की घोषणा की है. मुझे विश्वास है कि हिमाचल प्रदेश टीकाकरण कवरेज प्राप्त करने में अग्रणी होगा. राज्य में दो विकास मॉडल हैं. एक है ‘सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास’. दूसरा मॉडल ‘खुद का स्वार्थ, परिवार का स्वार्थ’ है. हिमाचल प्रदेश सरकार पहले मॉडल पर काम कर रही है और राज्य में कई विकास कार्यक्रमों को लागू किया है.

किसान योजना के पंडाल में बिताया समय
प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना की प्रदर्शनी को प्रधानमंत्री ने काफी देर तक देखा. इस दौरान योजना के निर्देशक राकेश कंवर ने हिमाचल प्रदेश में प्राकृतिक खेती के उत्पादों के बारे में जानकारी दी और प्रदेश में इसके विस्तार पर प्रधानमंत्री को बताया.

प्रधानमंत्री ने प्रदर्शनी को निहारने के बाद मौजूद अधिकारियों को कुछ निर्देश के लिए प्रकृति खेत में किसान योजना के पंडाल में प्रधानमंत्री ने काफी समय व्यतीत किया. इसके बाद प्रधानमंत्री ने सूचना प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा लगाई प्रदर्शनी को निहारा पंडाल में जल विद्युत पर योजनाओं की प्रदर्शनी पर प्रधानमंत्री ने काफी समय बिताया और प्रदेश में चल रही जल विद्युत परियोजनाओं की जानकारी ली.

लुहरी प्रथम चरण पनबिजली परियोजना की रखेंगे आधारशिला
वहीं आज पीएम मोदी लुहरी प्रथम चरण पनबिजली परियोजना की आधारशिला रखेंगे. वहीं, 210 मेगावाट की इस परियोजना का निर्माण 1800 करोड़ रुपए से ज्यादा की लागत से किया जाएगा. इससे हर साल 750 मिलियन यूनिट से ज्यादा बिजली का उत्पादन होगा. यह आधुनिक और भरोसेमंद ग्रिड क्षेत्र के आसपास के राज्यों के लिए भी यह फायदेमंद साबित होगा.

साथ ही 2,000 करोड़ रुपए की शिमला जिले में पब्बर नदी पर बनी 111 मेगावाट की सावड़ा कुड्डू पनबिजली परियोजना का लोकार्पण करेंगे. ऐसे में 700 करोड़ रुपए से बनने वाली 66 मेगावाट की धौलासिद्ध पनबिजली परियोजना का भी शिलान्यास करेंगे.

संबंधित पोस्ट

मायावती ने कहा, संसद के चालू सत्र में ही कृषि कानूनों को रद्द करे सरकार

navsatta

कांग्रेस से जुड़कर आप भी बन सकते हैं यूपी की आवाज

navsatta

UP Congress Candidate List: कांग्रेस की दूसरी लिस्ट में 41 उम्मीदवारों के नाम की घोषणा

navsatta

Leave a Comment