Navsatta
अपराधखास खबरमुख्य समाचारराज्यशिक्षा

यूपी टीईटी पेपर लीक के बाद 23 से ज्यादा लोग गिरफ्तार, एक महीने के अंदर दोबारा कराई जाएगी परीक्षा

प्रयागराज,नवसत्ता: उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी)का पेपर लीक हो गया है. इसकी वजह से परीक्षा रद्द कर दी गयी है. एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार और प्रमुख सचिव दीपक कुमार ने बताया कि पेपर शुरू होने से पहले मथुरा, गाजियाबाद और बुलंदशहर के व्हाट्सएप ग्रुप पर पेपर वायरल हो गया था. पुलिस ने इस मामले में अबतक 23 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इसमें 13 प्रयागराज से पकड़े गए हैं.

वहीं प्रशांत कुमार ने कहा कि एसटीएफ न पूरे मामले की जांच कर रही है. जो लोग पकड़े गए हैं उसमें कुछ लोग बिहार से हैं, जांच जारी है. परीक्षार्थियों से परिवहन में कोई पैसे नहीं लिए जाएंगे. वहीं प्रशासन का कहना है कि जल्द ही परीक्षा की नई तारीखों का एलान किया जाएगा.

एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि पेपर लीक करने वाले 23 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. उनसे पूछताछ चल रही है, जल्द ही पूरे मामले का खुलासा किया जाएगा. एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि लखनऊ से चार, मेरठ से तीन, गोरखपुर-वाराणसी से दो, कौशांबी से एक और प्रयागराज से 13 अभियुक्त गिरफ्तार किए हैं. पुलिस ने अब तक 23 आरोपी गिरफ्तार किए हैं.

बता दें कि शिक्षक बनने के लिए अनिवार्य टीईटी परीक्षा 28 नवंबर को केंद्रों पर सुबह 10 बजे शुरू हुई थी. 9:30 पर परीक्षार्थियों को उनके कक्ष में बैठा दिया गया था. 9:45 पर उन्हें प्रश्न पत्र और ओएमआर शीट वितरित की गई थी. इसपर सभी परीक्षार्थियों ने अपनी जरूरी एंट्री को भरा. 10 बजे उन्हें प्रश्नपत्र दिया गया. इस दौरान सेंटरों पर मजिस्ट्रेट पहुंचे और परीक्षा स्थगित होने की सूचना दी.

इसके बाद सभी केंद्र व्यवस्थापक ने अभ्यर्थियों से उनके ओएमआर शीट और प्रश्न पुस्तिका को वापस लेकर सील कर दिया. नोडल अधिकारी एडीएम ने बताया कि आयुक्त और जिलाधिकारी से मिले निर्देश के क्रम में यह ज्ञात हुआ है कि प्रश्न पत्र परीक्षा शुरू होने के पूर्व ही लीक हो गया था. इसके चलते शासन ने तत्काल प्रभाव से परीक्षा को स्थगित करने का निर्णय लिया है.

सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी संजय कुमार उपाध्याय ने बताया कि दोनों पालियों की परीक्षाएं निरस्त कर दी गई हैं. एक महीने के अंदर दोबारा टीईटी परीक्षा कराई जाएगी.

एप्लीकेंट्स को इसके लिए दोबारा फीस नहीं देनी पड़ेगी. बता दें कि यूपी टीईटी 2021 की परीक्षा दो पालियों में 2554 केंद्रों पर 28 नवंबर को प्रस्तावित थी. पहली में 12,91,628 और दूसरी पाली में 8,73,553 अभ्यर्थी शामिल होने थे.

संबंधित पोस्ट

NOIDA INTERNATIONAL AIRPORT: यूपी को मिली 5वें इंटरनेशनल एयरपोर्ट की सौगात

navsatta

India VS NEWZELAND ODI: बारिश के कारण तीसरा वनडे रद्द

navsatta

डीजिटलाइजेशन के विरोध में शिक्षकों ने काली पट्टी बांध किया विरोध

navsatta

Leave a Comment