Navsatta
क्षेत्रीयखास खबरचर्चा मेंदेशमुख्य समाचारराज्य

इको गार्डन में उमड़ी किसानों की भीड़, महापंचायत में बताई अपनी मांगें

लखनऊ,नवसत्ता: संयुक्त किसान मोर्चा की किसान महापंचायत के लिए आज लखनऊ के बंगला बाजार स्थित इको गार्डन मेेंं किसानों की भीड़ उमड़ी हुई है. जहां नजर उठाओ, उधर ही सिर पर हरी पगड़ी बांधे किसानों का जत्था उमड़ा दिख रहा है. सुबह से ही मंच पर एक-एक करके विभिन्न किसान संगठनों के नेता भाषण दे रहे हैं. सभी बीते एक साल से चल रहे किसान आंदोलन में जान गंवाने वाले किसानों को शहीद का दर्जा देने के साथ ही एमएसपी की मांग पर अड़े हुए हैं.

किसान, एमएसपी पर कानून की मांग के चलते महापंचायत की गई है. इसमें किसानों के दूसरे मुद्दों पर आगे की रणनीति बनेगी. साथ ही लखीमपुर खीरी हिंसा मामले पर
भी मंथन किया जाएगा.

‘एमएसपी नहीं तो आंदोलन वहीं’

किसानों ने महापंचायत में कहा है कि जब तक एमएसपी नहीं, तब तक आंदोलन वहीं. किसान महापंचायत में भाग लेने आए राकेश टिकैत ने कहा कि सरकार मांग मान लें, हम आंदोलन खत्म कर देंगे. बीकेयू नेता राकेश टिकैत ने असदुद्दीन ओवैसी की सीएए और एनआरसी को निरस्त करने की मांग पर कहा कि, ओवैसी और बीजेपी के बीच चाचा-भतीजा का रिश्ता है. उन्हें इस बारे में टीवी पर बात नहीं करनी चाहिए, वे सीधे पूछ सकते हैं.

संयुक्त किसान मोर्चा का पीएम नरेंद्र मोदी के नाम खुला खत

इससे पहले नयी दिल्ली के सिंघु बॉर्डर पर संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) की बैठक के बाद किसानों ने रविवार को पीएम मोदी के नाम जो खुला खत लिखा है, इस खत के जरिये किसानों ने अपनी 6 मांगें सरकार के सामने रखी हैं. उसमें कहा है कि सरकार को तुरंत किसानों से वार्ता बहाल करनी चाहिए. जब तक वार्ता बहाल नहीं होगी, तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा. इसमें वार्ता को फिर से बहाल करने, किसान आंदोलन के दौरान जिन किसानों की मौत हुई, उनके परिवार को पुनर्वास सहायता, मुआवजा की मांग शामिल है.

महापंचायत में शामिल होने से पहले किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि, एमएसपी का मुद्दा अभी भी लंबित, बिजली संशोधन विधेयक पर भी चर्चा होनी है. उन्होंने कहा कि, आंदोलन के दौरान हुई घटनाओं समेत इन मामलों पर चर्चा होनी चाहिए. हम चर्चा से पहले पीछे नहीं जा रहे. बता दें कि 26 नवंबर को दिल्ली के सभी बॉर्डर पर किसान जुटेंगे. 27 नवंबर को संयुक्त किसान मोर्चा की अगली बैठक होगी.

संबंधित पोस्ट

सीएम योगी ने जीबीसी-4 की तैयारियों का लिया जायजा, अधिकारियों को दिए दिशा-निर्देश

navsatta

उत्तर प्रदेश को अब बोलिए ‘स्वस्थ प्रदेश’, 38 करोड़ टीकाकरण कर प्रदेश ने बनाया है कीर्तिमान

navsatta

मुलायम के करीबी शतरुद्र प्रकाश ने थामा भाजपा का दामन

navsatta

Leave a Comment