Navsatta
खास खबरराजनीतिराज्य

चुनाव से पहले यूपी में जिन्ना की एंट्री, सीएम योगी ने अखिलेश के बयान को बताया शर्मनाक

लखनऊ,नवसत्ता : उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनावों से पहले मोहम्मद अली जिन्ना की एंट्री हो गई है. जिससे साफ है कि चुनाव अब किन मुद्दों पर लड़ा जाएगा. दरअसल, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के बयान पर पलटवार किया है. उन्होंने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल भारत की एकता और अखंडता के शिल्पी हैं. कल सपा प्रमुख की विभाजनकारी मानसिकता सामने आ गई. जब उन्होंने जिन्ना को समकक्ष रख के सरदार वल्लभ भाई पटेल की तुलना की. बीजेपी ने कहा कि अखिलेश यादव समाजवादी नहीं बल्कि जिन्नावादी हैं. उन्हें जनता से माफी मांगनी चाहिए. विभाजनकारी मानसिकता जनता स्वीकार नहीं करेगी.

बताते चलें कि भारत रत्न सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा का अनावरण करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, सरदार पटेल, जवाहरलाल नेहरू और जिन्ना एक ही संस्था से पढ़कर बाहर आए हैं और बैरिस्टर बने और देश को आजादी दिलाई. अखिलेश यादव ने कहा कि अगर बीजेपी के लोग पटेल जी पर विश्वास करते हैं तो तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करें. उन्होंने राज्य की बीजेपी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि बीजेपी सरकार साढ़े चार साल में एक भी काम का शिलान्यास नहीं कर पाई है.

जिस पर राज्य में सियासी हलचल तेज हो गई है. राज्य में योगी सरकार के मंत्री मोहसिन रजा ने अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि एसपी अध्यक्ष ने अखिलेश ने यह कहकर देश के महापुरुषों का अपमान किया है. क्योंकि उन्होंने विभाजनकारी जिन्ना की विचारधारा महात्मा गांधी, सरदार पटेल, जवाहरलाल नेहरू की विचारधारा को बताया है और इसके लिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए. रजा ने कहा कि आज भी देश के कुछ लोगों के दिलों में जिन्ना की विचारधारा है और लोगों को ऐसी विचारधारा से बचना चाहिए. उन्होंने कहा कि ये समाजवादी विचारधारा नहीं बल्कि जिन्नावादी विचारधारा है और इससे लोगों को बचना चाहिए।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी अखिलेश यादव पर हमला बोलते हुए एक सभा में कहा, ‘कल सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने देश तोडऩे वाले जिन्ना से राष्ट्र को जोडऩे वाले सरदार वल्लभ भाई पटेल की तुलना की. यह बेहद शर्मनाक कृत्य है. प्रदेश की जनता इसे कभी स्वीकार नहीं करेगी.’

हालांकि अखिलेश यादव के जिन्ना पर दिए गए बयान के बाद बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने ट्वीट कर अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए सवाल किया कि वह सरदार पटेल की जयंती पर मोहम्मद अली जिन्ना का महिमामंडन क्यों कर रहे हैं. उन्होंने अपने ट्वीट में एसपी प्रमुख अखिलेश यादव का एक वीडियो पोस्ट किया है. जिसमें वह कह रहे हैं कि महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और मोहम्मद अली जिन्ना ने एक ही संस्था में पढ़ाई की.

संबंधित पोस्ट

स्वामी प्रसाद मौर्य ने विधायक निधि से दिये एक करोड़ रूपये

navsatta

छठ महापर्व सनातन संस्कृति में भगवान सूर्य की उपासना का पर्वः कैबिनेट मंत्री एके शर्मा

navsatta

ओलंपिक खिलाडिय़ों का सम्मान करेगी यूपी सरकार, इकाना स्टेडियम में होगा भव्य कार्यक्रम

navsatta

Leave a Comment