Navsatta
खास खबरचुनाव समाचारराज्य

शिक्षा मित्रों, अनुदेशकों व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की चुनाव ड्यूटी पर लगी रोक

लखनऊ,नवसत्ता: यूपी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर चुनाव आयोग ने शिक्षामित्रों, अनुदेशकों, रोजगार सहायकों, अनुदेशकों व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की चुनाव ड्यूटी लगाने पर रोक लगाई है. आयोग के इस आदेश के बाद मतदान दल गठन की करीब पूरी तैयारी कर चुके जिला निर्वाचन अधिकारियों की परेशानी को बढ़ा दिया है.

आपात स्थिति में लगाई जाए ड्यूटी

निर्वाचन आयोग ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला को निर्देश दिए हैं कि मंडलीय पूल से प्राप्त कर्मियों का पूरा उपयोग होने के बाद ही शिक्षामित्रों, अनुदेशकों, रोजगार सहायकों और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को चुनाव ड्यूटी पर लगाया जाए. उन्होंने ये भी कहा कि जहां तक संभव हो इन्हें आरक्षित पूल में रखा जाए. खासतौर पर शिक्षा मित्रों को मतदान अधिकारी द्वितीय और अन्य कर्मियों को मतदान अधिकारी तृतीय के रूप में ही नियुक्त करने के निर्देश दिए है.

बढ़ाई गयी मतदान केन्द्रों की संख्या

यूपी में कोविड गाइडलाइन के अनुसार मतदान केंद्रों का गठन होने से मतदान केंद्रों की संख्या लगभग 11 हजार बढ़ गई है. 1.74 लाख मतदान केंद्रों पर चुनाव ड्यूटी लगाने के लिए पहले ही कर्मचारियों की कमी थी. ऐसे में 1.37 लाख शिक्षा मित्रों, 27 हजार से अधिक अनुदेशकों, 1.90 लाख आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और 35,248 रोजगार सहायकों को चुनाव ड्यूटी से बाहर रखने के निर्देश से मतदान दल गठन को काफी मुश्किल होगी. उत्तर प्रदेश दूरस्थ बीटीसी शिक्षक संघ के अध्यक्ष अनिल यादव ने आरोप लगाया है कि निर्वाचन आयोग शिक्षा मित्रों के साथ सही व्यवहार नहीं कर रही है.

संबंधित पोस्ट

सुप्रीम कोर्ट में कल होगी ईवीएम से वीवीपैट पर्चियों के मिलान की मांग पर सुनवाई

navsatta

उमेश पाल अपहरण कांड में आया फैसलाः अतीक अहमद समेत तीन लोगों को उम्र कैद

navsatta

कर्नाटक में हिजाब पर बवाल! छात्राओं ने कॉलेज में किया प्रदर्शन

navsatta

Leave a Comment