Navsatta
खास खबरचुनाव समाचार

लोकसभा चुनाव विशेष -राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए गठबंधन प्रत्याशी को जिताने का कार्य करेंगे — सुरेंद्र प्रताप सिंह

रमाकांत बरनवाल

सुलतानपुर (नवसत्ता):-38, संसदीय क्षेत्र सुलतानपुर में इंडिया गठबंधन के मुख्य घटक भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने भी गठबंधन प्रत्याशी को जिताने के लिए कमर कस लिया व जनपद में अपने पदाधिकारियों की लम्बी चौड़ी फौज खड़ी कर सभी को सक्रिय करने में लग गयी है।दो दिन पहले ही कांग्रेस जिलाध्यक्ष अभिषेक सिंह राणा ने अपने नगर अध्यक्षों की घोषणा कर चुनाव में सक्रियता लाने का ताना-बाना बुना व सभी पदाधिकारियों से गठबंधन प्रत्याशी को जीत हासिल कराने का संकल्प लिया।

कादीपुर विधानसभा क्षेत्र में पड़ने वाले नगर पंचायत कादीपुर में भी कांग्रेस पार्टी का नगर अध्यक्ष पुराने व जुझारू कार्यकर्ता सुरेन्द्र प्रताप सिंह को बनाया गया। हालांकि श्री सिंह इसके पहले भी कांग्रेस के नगर अध्यक्ष रहे हैं जिन्होंने हर चुनाव में पूरी सक्रियता से जिम्मेदारियों का निर्वहन भी किया है।

*नवसत्ता जिला संवाददाता* ने नवनियुक्त नगर अध्यक्ष सुरेंद्र प्रताप सिंह से लोकसभा चुनाव की रणनीति के सम्बन्ध में बातचीत किया प्रस्तुत है साक्षात्कार का एक अंश……..

प्रश्न – गठबंधन का प्रत्याशी बदल दिया गया इससे चुनाव पर क्या असर पड़ेगा

उत्तर – सुलतानपुर संसदीय क्षेत्र गठबंधन के घटक समाजवादी पार्टी के खाते में यह सीट गया है प्रत्याशी तो उसी को बनाना है वह उसका आंतरिक विषय है किसे बदले किसे न बदले पर यह अवश्य है कि अब नया प्रत्याशी जो गोरखपुर से भेजा गया वह पहले से बहुत अच्छा व योग्य प्रत्याशी है और हम सभी गठबंधन के प्रत्याशी को जिताने का कार्य करेंगे।

प्रश्न – गठबंधन का नया प्रत्याशी बसपा कैडर के रहे हैं और बसपा सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं सपा से गठबंधन प्रत्याशी भी घोषित हैं कांग्रेस से इनका तालमेल कैसा रहेगा

उत्तर – इसकी रणनीति कांग्रेस बना चुकी है गठबंधन प्रत्याशी को हम सभी जिताने का कार्य करेंगे और प्रत्याशी से तालमेल बनाया जाएगा

प्रश्न – गठबंधन प्रत्याशी को जीत दिलाने का कांग्रेस के पास आधार क्या है

उत्तर – यादव, निषाद, मुस्लिम के अलावा पिछड़े व अन्य पिछड़े वर्ग के अलावा सामान्य वर्ग में भी कांग्रेस का 50 हजार का बेस वोट है जिससे हम जीत हासिल करेंगे जिसका हमारे पास पिछले चुनाव का भी रेकार्ड है और कांग्रेस से संजय सिंह जी यहां से सांसद भी बने। कहा कि हमें तो कांग्रेस के राष्ट्रीय नेता राहुल गांधी जी को प्रधानमंत्री बनाना है और इसलिए हमें गठबंधन प्रत्याशी को जीत दिलाना है

प्रश्न – गठबंधन में शामिल समाजवादी पार्टी राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव जी भी तो गठबंधन से प्रधानमंत्री बन सकते हैं

उत्तर – नहीं कांग्रेस के नेता श्री राहुल गांधी ही गठबंधन के बहुमत से प्रधानमंत्री होंगे अखिलेश जी प्रधानमंत्री नहीं बनेंगे

प्रश्न – भाजपा प्रत्याशी सांसद मेनका संजय गांधी जी भी अपने द्वारा किए गए विकास कार्यों के आधार पर पुनः मैदान में हैं जनमानस का झुकाव उनकी तरफ है

उत्तर – यह बात ग़लत है कि सुलतानपुर संसदीय क्षेत्र में विकास हुआ है अभी बहुत से ऐसे सम्पर्क मार्ग हैं जहां की स्थिति बहुत ही खराब है व परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है

प्रश्न – इस चुनाव में क्या स्थिति बन रही है सीट कौन निकाल सकता है

उत्तर – सुलतानपुर की सीट गठबंधन प्रत्याशी ही निकालेगा क्योंकि पूरा जनपद बदलाव चाहता है गठबंधन प्रत्याशी ही सब पर भारी पड़ेगा जिसकी लड़ाई सीधे बसपा से है और बसपा दूसरे स्थान पर होगी।

संबंधित पोस्ट

अखिलेश यादव का बड़ा दांव, सरकार बनने पर जरूरतमंदों को देंगे सालाना 18 हजार रुपये, अपर्णा को दी बधाई

navsatta

चुनाव आयोग ने बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष को भेजा नोटिस

navsatta

अजीत पवार पर आयकर विभाग की बड़ी कार्रवाई, सीज की हजारों करोड़ की संपत्ति

navsatta

Leave a Comment