Navsatta
आस्थाखास खबरचर्चा मेंमुख्य समाचार

जोशीमठ आपदा पर उच्चतम न्यायालय आज करेगा सुनवाई

नयी दिल्ली, नवसत्ताः उच्चतम न्यायालय उत्तराखंड के जोशीमठ में जमीन धंसने से प्रभावित सैंकड़ों परिवारों को समुचित वित्तीय मदद और मुआवजा सुनिश्चित करने के लिए सरकार को निर्देश देने की मांग वाली जनहित याचिका पर सोमवार को सुनवाई करेगा। शीर्ष अदालत की वेबसाइट के अनुसार मुख्य न्यायाधीश डी. वाई. चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति नरसिम्हा और न्यायमूर्ति जे. बी. पादरीवाला की पीठ जगतगुरु शंकराचार्य ज्योतिर्मठ ज्योतिषपीठधीश्वर श्री स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई करेगी।

याचिका में “उत्तराखंड के चमोली जिले के पहाड़ी इलाके जोशीमठ (शहर क्षेत्र) के लोगों के जीवन और व्यक्तिगत स्वतंत्रता को सुरक्षित करने के लिए” दायर की गई है। याचिका में केंद्र और राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण को आवश्यक निर्देश देने की मांग की गई है, ताकि जोशीमठ के लोगों को तत्काल सहायता प्रदान करने के लिए ठोस उपाय किए जाएं।

जोशीमठ उत्तराखंड के चमोली जिले में समुद्र तल से 1,800 मीटर की ऊंचाई पर स्थित पहाड़ी शहरी इलाका है। पिछले दिनों जमीन धंसने से इस इलाके में बड़ी संख्या में मकानों में दरारें आ गई थीं। इस वजह से बड़ी संख्या में लोगों को वहां से सुरक्षित जगहों पर ले जाया गया है।

संबंधित पोस्ट

बंगाल की लोक कला संस्कृति को उजागर करती शॉर्ट फिल्म ‘आनंदी’

navsatta

सांसद संजय सिंह ने भाजपा विधायक राघवेंद्र के खिलाफ आयोग को लिखी चिट्ठी

navsatta

ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए डीआरडीओ के सहयोग से प्रदेश में बनेंगे 10 नए प्लांट

navsatta

Leave a Comment