Navsatta
अपराधखास खबरराज्य

दो अलग-अलग सड़क हादसे में नौ लोगों की दर्दनाक मौत, सीएम योगी ने जताया शोक

कानपुर/गोंडा,नवसत्ता: कानपुर के घंटाघर से टाटमिल चौराहे तक रविवार आधी रात इलेक्ट्रिक बस मौत बनकर दौड़ी. आधा दर्जन वाहनों को टक्कर मारी और 15 लोगों को रौंद दिया. आखिर में बीच चौराहे पर बने ट्रैफिक बूथ से टकराते हुए डंपर में घुस गई. हादसे में छह लोगों की मौत हो गई. नौ लोग घायल हैं. घायलों में कइयों की हालत गंभीर है. देररात मृतकों में चार की पहचान हो सकी थी.

कार और बाइक-स्कूटी के उड़े परखच्चे

लाटूश रोड निवासी शिवम उर्फ शुभम सोनकर (30) अपने दोस्त ट्विंकल उर्फ सुनील सोनकर (30) व रमेश यादव एक स्कूटी में थे. ये भी बस की चपेट में आ गए. जिसमें शिवम व सुनील की मौत हो गई. वहीं बाइक सवार बेकनगंज निवासी अस्लान (20) भी वहीं से गुजर रहे थे. उनकी भी मौत हो गई. नौबस्ता के केशव नगर निवासी अजीत कुमार (60) की भी मौत हो गई. अन्य की पहचान नहीं हो सकी. ई-बस ने सबसे पहले एक स्विफ्ट कार, फिर दो बाइकों, दो स्कूटी, एक टेंपो, एक जेन कार और फिर डंपर में टक्कर मारी. छह को मौत की नींद सुला दिया.

डीसीपी प्रमोद कुमार ने बताया कि मृतकों के शव मोर्चरी भिजवा दिए गए हैं. घायलों का अस्पताल में इलाज जारी है. बस चालक फरार है. उसकी तलाश की जा रही है. शुरुआती जांच में बस चालक की गलती पाई गई है. बाकी जांच के बाद तथ्य स्पष्ट होंगे.

राष्ट्रपति ने जताया शोक

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने हादसे पर शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया. जिसमें उन्होंने कहा कि कानपुर में हुई बस दुर्घटना में कई लोगों के हताहत होने की खबर से अत्यंत दु:ख हुआ है. इस घटना में अपने प्रियजनों को खोने वाले परिवारों के प्रति मेरी गहन शोक-संवेदनाएं. मैं घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.

श्रद्धालुओं से भरी पिकअप में सवार तीन लोगों की मौत

वहीं दूसरी ओर गोंडा में तरबगंज-नवाबगंज मार्ग पर रानीपुर दुर्जनपुर पुल के एप्रोच मार्ग की खाईं में सोमवार तड़के श्रद्धालुओं से भरी एक पिकअप गिर गई. पिकअप में सवार तीन लोगों की मौके पर मौत हो गई और 40 लोग घायल हो गए.
मृतकों में एक महिला भी शामिल है. सभी बहराइच जिले के निवासी हैं. जोकि संगम स्नान के लिए प्रयागराज जा रहे थे. स्थानीय लोगों की मदद से प्रशासन राहत व बचाव कार्य में जुटा है.

मुख्यमंत्री योगी ने जताया शोक

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोंडा में सड़क दुर्घटना में लोगों की मृत्यु पर शोक व्यक्त किया है. उन्होंने शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है. मुख्यमंत्री ने इस हादसे में घायल लोगों का समुचित उपचार कराने व प्रभावित लोगों को हर संभव मदद और राहत प्रदान करने के निर्देश दिए हैं.

संबंधित पोस्ट

अगले हफ्ते भारत आएंगे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन

navsatta

कुतुब मीनार में किसी भी धर्म को पूजा-पाठ की इजाजत नहीं, एएसआई ने दिया जवाब

navsatta

28 वर्षीय युवक की हत्या, संदिग्ध परिस्थितियों में मिला शव

navsatta

Leave a Comment