Navsatta
खास खबरचुनाव समाचारदेशराजनीति

Punjab Election: आम आदमी पार्टी की सरकार बनते ही दफ्तरों में लगेंगी अंबेडकर और भगत सिंह की तस्वीरें

चण्डीगढ़,नवसत्ता: पंजाब चुनाव से पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बड़ा ऐलान किया है. पंजाब के अमृतसर में रविवार को उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद दफ्तरों में मुख्यमंत्री या किसी भी नेता की तस्वीर नहीं लगाई जाएगी. बल्कि उनकी जगह सिर्फ बाबा साहब अंबेडकर और शहीद भगत सिंह की तस्वीर लगाई जाएगी. उन्होंने कहा कि आजादी बहुत मुश्किल से मिली थी, इसके लिए बहुत लोगों ने अपनी जान कुर्बान कर दी, लंबा संघर्ष किया, लेकिन हम धीरे-धीरे उनकी कुर्बानी, संघर्ष और विचारों को भूलते जा रहे हैं.

उन्होंने कहा, ‘पूरे सिस्टम के ऊपर गंदी राजनीति हावी होती जा रही है. आजादी दिलाने के लिए बहुत से लोगों ने कुर्बानी दी और किसी भी कुर्बानी या संघर्ष को देखें, तो दो शख्सियत ऐसी नजर आती हैं, जो एक तरह से पूरे आजादी के आंदोलन का प्रतिनिधित्व करती हैं. और वो हैं, बाबा साहब अंबेडकर और शहीद ए आजम भगत सिंह. ये दो आजादी के दिवाने, शख्सियत ऐसी थीं, जो आजादी के जितने भी सैनानी थे, सबका प्रतिनिधित्व करते हैं. हम बाबा साहब के भक्त हैं, उनकी पूजा करते हैं. इसलिए पंजाब सरकार के सभी दफ्तरों में उनकी तस्वीरें लगाई जाएंगी. ताकि उन्हें देखकर हमारी आने वाली पीढ़ी प्रेरणा ले सकें. जितने भी लोग देखेंगे, उन्हें उनकी कुर्बानी, संघर्ष और विचार याद आएंगे.’

भगत सिंह व बाबा साहब के रास्ते अलग लेकिन मंजिल एक थी

बाबा साहब बहुत गरीब घर मे जन्मे, छुआ छूत का सामना किया, घर मे खाने को नहीं था, लेकिन वहां से निकल कर उस शख्स ने पीएचडी की दो डिग्री हासिल की. इसके साथ देश का संविधान लिखा. उन्होंने शिक्षा को बहुत महत्व दिया. भगत सिंह व बाबा साहब के रास्ते अलग थे लेकिन मंजिल एक थी. पंजाब में हमारी सरकार बनने के बाद किसी नेता की फोटो नहीं लगाई जाएगी, बाबा साहब अम्बेडकर व शहीद ए आजम भगत सिंह की तस्वीरें लगाई जाएंगी व उनकी दिखाई राह पर सरकार चलेगी.

भगवंत मान को बताया कट्टर ईमानदार

आम आदमी पार्टी का सीएम फेस भगवंत मान हैं. उन्हें लेकर अरविंद केजरीवाल ने कहा, ‘जब मैं सरदार भगवंत मान को ‘कट्टर ईमानदार’ कहता हूं तो दूसरी पार्टी के नेताओं को तकलीफ होती है, क्योंकि वो खुद ‘कट्टर भ्रष्टाचारी’ हैं. दूसरी पार्टी के नेता हर फाइल साइन करने से पहले देखते हैं कि इससे कितना पैसा बनाया जा सकता है. कोई उसे मिलना आता है, इनसे कितने पैसे नोंच लूं, वो केवल और केवल पैसा लूटने के बारे में सोचते हैं. और ये आदमी केवल पंजाब के बारे में सोचता है.’

संबंधित पोस्ट

ट्विटर इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

navsatta

महिला डिग्री कालेज की बालिकाओं ने चलाया स्वच्छता ही सेवा अभियान

navsatta

एक्टर गौरव बजाज के बढ़ते कदम…….

navsatta

Leave a Comment