Navsatta
खास खबरचुनाव समाचारदेश

उत्तराखंड चुनाव: प्रत्याशियों के चयन में देरी पर राहुल गांधी नाराज

देहरादून,नवसत्ता: उत्तराखंड में प्रत्याशियों के चयन में हो रही देरी को लेकर कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी नाराज बताए जा रहे हैं. क्योंकि राहुल गांधी को उम्मीद है कि इस बार पार्टी उत्तराखंड में सत्ता में आएगी और वह पार्टी के नेताओं को पहले ही हिदायत दे चुके हैं कि गुटबाजी खत्म की जाए.

अभी तक पार्टी चुनाव के लिए प्रत्याशियों के नामों का ऐलान नहीं कर सकी है और इसके पीछे सबसे बड़ी वजह पूर्व सीएम हरीश रावत और नेता प्रतिपक्ष के बीच सियासी तकरार है. जिसके कारण पार्टी 13 सीटों पर नाम फाइनल नहीं कर सकी हैं. वहीं कहा जा रहा है कि गुटबाजी को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी नाराज हैं. राज्य में होने वाले चुनाव के लिए कांग्रेस ने 57 सीटों पर नाम तय कर दिए हैं, जबकि 13 सीटों पर रावत और प्रीतम सिंह के बीच विवाद चल रहा है.

नए नामों पर नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने जताई आपत्ति

दरअसल राज्य के पूर्व सीएम हरीश रावत और नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह कई महत्वपूर्ण सीटों पर आमने-सामने हैं और इसके कारण पिछले तीन दिनों से दिल्ली में चल रही बैठक में प्रत्याशियों के नाम पर फैसला नहीं किया जा सका है. हालांकि पहले कहा जा रहा था कि शनिवार रात तक पार्टी प्रत्याशियों के नामों का ऐलान कर सकती है. लेकिन आज एक बार फिर कांग्रेस के नेताओं की बैठक प्रत्याशियों के चयन को लेकर होनी है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पूर्व सीएम हरीश रावत खेमे ने कुछ सीटों पर नए नाम सामने रखे थे, जिन पर नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने आपत्ति जताई और उन्होंने इन नामों पर सीधे तौर पर विरोध जताया.

57 सीटों पर सहमति, 13 पर विवाद

चर्चा है कि राज्य में पार्टी 57 सीटों पर सहमति बना चुकी है. लेकिन 13 सीटों पर विवाद सामने आ रहा है और इसमें दोनों ही गुट अपने अपने दावे कर रहे हैं. जबकि दिल्ली में तीसरे दिन शनिवार को दोपहर को शुरू हुई बैठक रात एक बजे तक चली. लेकिन सीटों पर कोई सहमति नहीं बन सकी. बताया जा रहा है कि इसमें नौ सीटें गढ़वाल क्षेत्र की और चार सीटें कुमाऊं क्षेत्र की हैं.

संबंधित पोस्ट

भाजपा को बंगाल में तीन चरणों में मिला लाेगों को अभूतपूर्व समर्थन : शाह

navsatta

यूपी पुलिस की भर्ती परीक्षा रद्द होने पर छात्रों के चेहरे खिले

navsatta

सरकार के लिए जीएसटी के मोर्चे पर बड़ी खुशखबरी, मिले 1.30 लाख करोड़ रुपये

navsatta

Leave a Comment