Navsatta
खास खबरदेश

गणतंत्र दिवस समारोह में आम लोगों के शामिल होने पर लग सकती है पाबंदी, गांधी मैदान में निकलेगी केवल 8 झांकियां

पटना,नवसत्ता: बिहार में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के राजकीय समारोह पर कोरोना का साया मंडरा रहा है. समारोह के सफल और सुचारु आयोजन के लिए प्रमंडलीय आयुक्त कुमार रवि व आइजी पटना राकेश राठी ने जिले के डीएम, एसएसपी, एसपी ट्रैफिक, एसपी सिटी सहित कई अधिकारियों के साथ मंगलवार को बैठक की और जरूरी दिशा निर्देश दिये.

पटना के कमिश्नर ने बताया कि इस वर्ष गांधी मैदान में होने वाले गणतंत्र दिवस के राजकीय समारोह में केवल आठ विभागों की झांकियां निकाली जाएंगी, साथ ही परेड में 12 टुकड़ियां शामिल होंगी. उन्होंने गांधी मैदान में होने वाली पार्किंग, साफ-सफाई, पेयजल की व्यवस्था और प्राथमिक चिकित्सा की तैयारियों को समय से पूरा करने का भी निर्देश दिया.

हालांकि आम लोगों के इसमें इंट्री पर फिलहाल कोई फैसला नहीं हुआ पर माना जा रहा है कि जिस तरह कोरोना संक्रमण का प्रसार तेजी से बढ़ा है उसे देखते हुए पिछले साल की तरह आम लोगों के आने पर पाबंदी लगाई जाएगी. आपदा प्रबंधन द्वारा फिलहाल 21 जनवरी तक के लिए गाइडलाइन का एलान किया गया है. 21 जनवरी के बाद जैसे गाइडलाईन का फैसला लिया जाएगा उसी के मुताबिक निर्देश जारी किए जाएंगे.

प्रमंडलीय आयुक्त ने उप विकास आयुक्त पटना को झांकी से संबंधित विभागों के नोडल पदाधिकारी के साथ बैठक करने तथा सभी आवश्यक तैयारी ससमय सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया है. परेड में शामिल होने वाले टुकड़ियों का पूर्वाभ्यास मंगलवार से गांधी मैदान में शुरू हुआ. इसके लिए संबंधित अधिकारियों को योजनाबद्ध तरीके से आवश्यक तैयारी करने को कहा गया है.

इस साल झांकियों में क्या होगा खास?
  • मद्य निषेध उत्पाद एवं निबंधन विभाग द्वारा ‘नशा मुक्ति’ विषय पर आधारित झांकी प्रस्तुत की जाएगी.
  • पर्यटन निदेशालय द्वारा ‘पुनौराधाम सीतामढ़ी’ विषय पर झांकी प्रस्तुत की जाएगी.
  • कृषि निदेशालय ‘जैविक उत्पाद अपनाएं, जीवन स्वस्थ बनायें’ पर आधारित झांकी निकालेगी.
  • राज्य स्वास्थ्य समिति द्वारा ‘हर घर दस्तक’ विषय वस्तु पर झांकी निकाली जाएगी.
  • उपेंद्र महारथी शिल्प अनुसंधान संस्थान, पटना उद्योग विभाग द्वारा ‘बिहार में औद्योगिक विकास’ विषय पर आधारित झांकी निकाली जाएगी.
  • महिला एवं बाल विकास निगम, समाज कल्याण विभाग द्वारा ‘समाज सुधार अभियान-बाल विवाह एवं दहेज मुक्त बिहार है नारी का सम्मान’ विषय पर आधारित झांकी प्रस्तुत की जाएगी.
  • बिहार शिक्षा परियोजना परिषद द्वारा ‘बंदिशों से आजादी’ विषय वस्तु पर झांकी प्रस्तुत की जाएगी.
  • बिहार रिन्यूएबल इनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी पटना द्वारा ‘मुख्यमंत्री ग्रामीण सोलर स्ट्रीट लाइट’ योजना पर आधारित झांकी प्रस्तुत की जाएगी.

संबंधित पोस्ट

गर्मियों में वन व जंगलों में आग लगने की न हो घटनाएं, योगी सरकार अभी से मुस्तैद

navsatta

हर तरफ धमाल, वेंटिलेटर पर सरकारी अस्पताल

navsatta

एपी सेन कॉलेज की डॉ ऋचा बनीं एसोसिएट प्रोफ़ेसर

navsatta

Leave a Comment