Navsatta
खास खबरचुनाव समाचारदेशराजनीतिराज्य

मतदाता सूची 5 जनवरी को होगी प्रकाशित

एक घंटे बढ़ाया जाएगा मतदान का समय: चुनाव आयोग

कोविड संक्रमित, बुजुर्ग व विकलांग को मिलेगी घर पर ही मतदान करने की सुविधा

लखनऊ,नवसत्ता: उत्तर प्रदेश, पंजाब समेत पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावो के मद्देनजर आज चुनाव आयोग ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा का कार्यकाल 14 मई को खत्म हो रहा है. लखनऊ में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा कि सभी राजनीतिक दलों से राय ली गई है. ज्यादा से ज्यादा लोगों की भागीदारी की कोशिश की. पुलिस प्रशासन से भी इंतजाम पर बात की गई है.

कोविड प्रोटोकाल का विशेष ध्यान दें

विधानसभा चुनाव को लेकर चंद्रा ने कहा कि राजनीतिक दलों ने अनुरोध किया कि कोविड प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए चुनाव कराए जाएं. हालांकि, उन्होंने रैलियों के आयोजन को लेकर चिंता व्यक्त की है. उन्होंने कहा कि अंतिम मतदाता सूची 5 जनवरी को जारी की जाएगी.

वृद्धजनों को घर पर ही वोट डालने की सुविधा मिलेगी

वहीं, चुनाव आयुक्त ने कहा कि 80 साल से ज्यादा उम्र के लोग अगर ना आना चाहें तो चुनाव आयोग उन्हें घर पर वोट डालने की सुविधा देगी. इसके अलावा, ये सुविधा विकलांग और कोविड प्रभावित लोगों के लिए भी होगी. इसके लिए बकायदा एक टीम मतदाताओं के घर जाएगी और उन्हें वीडियोग्राफी का टाइम बताया जाएगा.

मतदान का समय एक घंटे बढ़ाया जाएगा

चुनाव आयोग ने कहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मतदान का समय एक घंटा बढ़ाया जाएगा. चुनाव आयोग ने कहा कि मतदाता पंजीकरण का कार्यक्रम भी चल रहा है. उस पर काफी मेहनत हुई है. 5 जनवरी को अंतिम मतदाता सूची प्रकाशित की जाएगी.

मतदान केंद्रों पर लाइव वेबकास्टिंग की सुविधा उपलब्ध रहेगी

चुनाव आयुक्त ने कहा कि कई राजनैतिक पार्टियों ने रैलियों की संख्या को कम करने की बात कही है. सभी मतदान केंद्रों पर वीवीपैट लगाए जाएंगे. चुनाव प्रक्रिया में पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए लगभग 1 लाख मतदान केंद्रों पर लाइव वेबकास्टिंग की सुविधा उपलब्ध रहेगी. इसके अलावा, सभी तरह के अपराधों से निपटने की व्यवस्था भी की गई है.

यूपी में कम मतदान को लेकर जताई चिंता

सुशील चंद्रा ने कहा उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर कहा कि 2017 के यूपी विधानसभा चुनाव में 61 फीसदी मतदान हुआ था. 2019 के लोकसभा चुनाव में यूपी में 59 फीसदी मतदान हुआ था. यह चिंता का विषय है कि जिस राज्य में लोगों में राजनीतिक जागरूकता अधिक है, वहां मतदान प्रतिशत कम क्यों है? उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव के दौरान वोटिंग मतदान की तारीख को सुबह 8 बजे से शाम 6 बजे तक होगी. 1250 मतदाता पर एक बूथ तैयार होगा. उन्होंने कहा कि फाइनल मतदाता सूची आने के बाद उसमें नाम जोड़े जा सकेंगे.

गौरतलब है कि कोरोनावायरस के नए ओमिक्रॉन वेरिएंट को देखते हुए पिछले हफ्ते इलाहाबाद हाईकोर्ट ने चुनाव आयोग से अपील की कि उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को टाल दिया जाए. वहीं, चुनाव आयोग ने कहा था कि हालात का जायजा लेने के बाद इस दिशा में ठोस निर्णय लिया जाएगा. हालांकि, इसके बाद से ही चुनाव के टलने की चर्चा शुरू होने लगी थी.

संबंधित पोस्ट

राज्यसभा सांसद के निधन पर सीएम ने जताया शोक

navsatta

बंगाल के पंचायत चुनाव में बूथ कैप्चरिंग, कूचबिहार में बैलट बॉक्स लेकर भागा युवक

navsatta

मिर्जापुर : स्वास्थ्य केंद्र के कोविड वार्ड की खस्ता हालत, वीडियो हुआ वायरल

navsatta

Leave a Comment