Navsatta
खास खबरचुनाव समाचारदेशराजनीति

जनवरी के पहले सप्ताह में कांग्रेस जारी करेगी प्रत्याशियों की सूची

देहरादून,नवसत्ता: उत्तराखंड विधानसभा चुनावों के मद्देनजर कांग्रेस पार्टी जनवरी के पहले सप्ताह में प्रत्याशियों की सूची जारी करेगी. कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी के चेयरमैन अश्वनी पांडे ने सोमवार को कहा कि अब तक 40 सीटों पर प्रत्याशियों का इंटरव्यू किया जा चुका है. वहीं दूसरी ओर उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में संगठन की तैयारियों का जायजा लेने के लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा खुद मोर्चे पर उतरने जा रहे हैं. वह 26 दिसंबर को देहरादून आएंगे.

इस दौरे में नड्डा एक-एक सीट पर पार्टी, विधायक और टिकट की दौड़ में शामिल दावेदारों के दमखम की जमीनी हकीकत का पता लगा सकते हैं. यह फीडबैक उन्हें पिछले करीब तीन महीने से विधानसभा क्षेत्रों में डेरा जमाए संयोजक, प्रभारी और विस्तारक के साथ जिला अध्यक्ष व जिला प्रभारी से मिलेगा. हर विधानसभा में करीब छह समर्पित सदस्यों की इस टीम को नड्डा की बैठक में शामिल होने को कह दिया गया है.

आगामी चुनाव को लेकर कांग्रेस में टिकट के लिए घमासान मचा हुआ है. हरिद्वार विधानसभा से आठ और रानीपुर विधानसभा से नौ लोगों ने टिकट के लिए आवेदन किया है. इस क्रम में मंगलवार को कांग्रेस की एक केंद्रीय टीम प्रदेश स्क्रीनिंग कमेटी के चेयरमैन अविनाश पांडे के साथ धर्मनगरी पहुंच रही है. ज्वालापुर में आर्य नगर के पास स्थित सैनी आश्रम में दावेदारों के इंटरव्यू लिए जाएंगे.

बताते चलें कि कांग्रेस पार्टी के सांगठनिक जिला पौड़ी की तीन विधान सभा सीटों पर दावेदारों की तस्वीर साफ हो गई है. प्रत्याशी चयन के लिए स्क्रीनिंग कमेटी के सामने भी दावेदारों की हाजिरी हो चुकी है. आरक्षित सीट पौड़ी से टिकट के लिए 13 दावेदारों ने आवेदन किया है. चौबट्टाखाल के लिए पार्टी को 7 आवेदन मिले हैं, जबकि श्रीनगर सीट पर सिर्फ दो आवेदन आए हैं.

बता दें कि नड्डा अपने इस दौरे में कोई जनसभा या रोड शो नहीं करेंगे. उनका पूरा फोकस 70 विधानसभा सीटों में पार्टी की चुनावी तैयारियों का पता लगाना है. साथ वह पार्टी विधायक और टिकट के दावेदारों के दमखम को लेकर जानकारी ले सकते हैं, ताकि जिताऊ प्रत्याशियों की तलाश पूरी हो सके. विधानसभा क्षेत्रों के मोर्चे पर उतारी गई टीम को एकदम ठोस और पुख्ता रिपोर्ट देने को कहा गया है. बैठक में नड्डा प्रदेश और विधानसभा सीट पर विरोधी पार्टी की चुनावी रणनीति, उनके उठाए जा रहे मुद्दे और संभावित दावेदारों को लेकर भी जानकारी लेंगे. वह पार्टी नेतृत्व को चुनाव प्रचार की टिप्स भी दे जाएंगे और बूथ स्तर पर पार्टी की सभी जरूरी तैयारी पूरी करने के निर्देश देंगे.

सूत्रों के मुताबिक इस बैठक के बाद पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व उन सीटों पर प्रत्याशियों के नाम तय कर सकता है, जिनमें कोई उलझन या शंका नहीं है. इनमें कुछ मंत्री और वरिष्ठ विधायक भी हो सकते हैं. हालांकि संकेत हैं कि पार्टी चुनाव आचार संहिता के बाद ही उम्मीदवारों की पहली सूची सावर्जनिक करेगी. प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में चुनाव प्रचार की रणनीति भी परखेंगे. वह जानेंगे किस विधानसभा क्षेत्र में कौन सा मुद्दा प्रमुख है और उस पार्टी की प्रचार की क्या रणनीति होगी.

23 दिसंबर को मुख्य चुनाव आयुक्त शाम चार बजे देहरादून पहुंचेंगे. इसी दिन शाम पांच बजे राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे. इसके बाद प्रदेश के सभी डीएम और एसएसपी समेत मुख्य निर्वाचन अधिकारी के साथ बैठक करेंगे. 24 दिसंबर को मतदाता जागरूकता प्रदर्शनी कार्यक्रम में भाग लेंगे. इसके बाद चुनाव व्यय निगरानी अधिकारी, मुख्य सचिव और डीजीपी के साथ बैठक करेंगे.

संबंधित पोस्ट

इस साल भाजपा सरकार दसवें वर्ष में नहीं, बल्कि अंतिम वर्ष हैः अखिलेश

navsatta

गुरु पूर्णिमा पर टूटे कोविड नियम, प्रशासन का ‘सांकेतिक स्नान’ का दावा फेल

navsatta

पुलिस हिरासत में युवक की मौत : पीड़ित परिवार से मिलने कासगंज जाएंगी PRIYANKA

navsatta

Leave a Comment