Navsatta
खास खबरचर्चा मेंदेशमुख्य समाचार

राहुल गांधी ने लोकसभा में दी मृतक किसानों की लिस्ट, मुआवजा देने की मांग

नई दिल्ली,नवसत्ता: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा में मृतक किसानों का मुद्दा उठाया. इस दौरान राहुल गांधी ने तीन कृषि कानूनों के खिलाफ महीनों से चलते आ रहे आंदोलन के दौरान जान गंवाने वाले शहीद किसानों के परिवारों के लिए मुआवजे और नौकरी की मांग की.

लोकसभा में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि 30 नवंबर को कृषि मंत्री से सवाल किया गया था कि आंदोलन के दौरान कितने किसानों की मौत हुई तो जवाब आया कि हमारे पास डाटा नहीं है. राहुल गांधी ने लिस्ट दिखाया और कहा कि मेरे पास मृतक किसानों की लिस्ट है जो आपको मैं दे रहा हूं. मृत किसानों के परिवार को पंजाब सरकार ने मुआवजा दिया है और कुछ को नौकरी भी दी है.

उन्होंने आगे कहा कि एक ओर प्रधानमंत्री ने माफी मांगी है और दूसरी ओर सरकार ने कहा है कि मृत किसानों का डाटा नहीं है तो मैं यह लिस्ट आपको देता हूं. केंद्र सरकार इन्हें ‘न्याय दे और मुआवजा भी’.

पंजाब व हरियाणा सरकार ने किसानों को दिया मुआवजा
राहुल गांधी ने कहा, पंजाब की सरकार ने करीब 400 किसानों को 5-5 लाख रुपये का मुआवजा दिया है. उनमे से 152 किसानों को रोजगार भी दिया है. इन किसानों की लिस्ट मेरे पास है.
इतना ही नहीं उन्होंने कहा, ‘हरियाणा के 70 किसानों को भी मुआवजा मिला है.

प्रधानमंत्री ने इस मामले पर माफी मांगी और उनकी सरकार कह रही है कि कोई भी किसान शहीद नहीं हुआ या उनके नाम रिकॉर्ड में नहीं हैं, तो ये नाम यहां हैं. मैं चाहता हूं कि जो इनका हक है और जो प्रधानमंत्री ने कहा है, जिसके लिए माफी मांगी है, उन्हें उनका पूरा हक मिलना चाहिए. उनको मुआवजा और नौकरी मिलनी चाहिए.’

कांग्रेस ने सदन की कार्यवाही का किया बहिष्कार
इसके बाद कांग्रेस ने लोकसभा से वॉक आउट किया. कांग्रेस के सांसदों की मांग थी कि जीरो ऑवर में राहुल गांधी द्वारा उठाए गए प्रश्न का उत्तर कृषि मंत्री अबिलम्ब दें. राहुल गांधी ने जीरो ऑवर में 700 किसानों की मौत की बात कही और उनके परिजनों के लिए मुआवजा और रोजगार की मांग की. लेकिन ऐसा नहीं होने पर उन्होंने सदन की कार्यवाही का बहिष्कार कर दिया.

राज्यसभा की बैठक दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित
राज्यसभा के 12 सांसदों के खिलाफ की गई निलंबन की कार्रवाई पर हंगामा मंगलवार को भी जारी है. विपक्षी सदस्यों के हंगामे की वजह से राज्यसभा की बैठक शुरू होने के पांच मिनट बाद ही दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई.

इधर लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी और कई अन्य विपक्षी सांसदों ने संसद के मानसून सत्र के दौरान उच्च सदन में अशोभनीय आचरण को लेकर शीतकालीन सत्र की शेष अवधि के लिए 12 सांसदों के खिलाफ की गई निलंबन की कार्रवाई के विरोध में मंगलवार को संसद परिसर में धरना दिया.

संबंधित पोस्ट

गोरखपुर के रेडिमेड गारमेंट को मिलेगी राष्ट्रीय पहचान

navsatta

यूपी आते ही गांधी प्रतिमा पर धरना दे प्रियंका ने घेरा योगी सरकार को

navsatta

यूक्रेन-रूस तनाव: भारतीय नागरिकों को यूक्रेन छोड़ने की सलाह

navsatta

Leave a Comment