Navsatta
खास खबरराजनीतिराज्य

इंदौर-भोपाल में लागू होगा कमिश्नर सिस्टम, सीएम शिवराज ने किया ऐलान

भोपाल,नवसत्ता: मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दो बड़े महानगरों इंदौर और भोपाल में पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू करने का ऐलान कर दिया है. मुख्यमंत्री ने बताया कि दोनों शहरों की बढ़ती जनसंख्या और भौगोलिक विस्तार को ध्यान में रखते हुए यह फैसला किया गया है.

बता दें कि इससे पहले इस मांग को लेकर मध्य प्रदेश आईपीएस एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने 2019 में तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ से भी मुलाकात की थी. करीब दो दशक से अटका पुलिस कमिश्नर सिस्टम 2020 में 15 अगस्त को लागू किया जाना था. उस वक्त पर घोषणा टल गई थी. पुलिस मुख्यालय कई बार पुलिस कमिश्नर सिस्टम के लिए गृह विभाग को प्रस्ताव भेज चुका हैं .

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार सुबह कहा कि प्रदेश में कानून और व्यवस्था की स्थिति बेहतर है. पुलिस अच्छा काम कर रही है. पुलिस और प्रशासन ने मिलकर कई उपलब्धियां हासिल की हैं, लेकिन शहरी जनसंख्या तेजी से बढ़ रही है. भौगोलिक दृष्टि से भी महानगरों का विस्तार हो रहा है और जनसंख्या भी लगातार बढ़ रही है. इस वजह से कानून और व्यवस्था की कुछ नई समस्याएं पैदा हो रही हैं. उनके समाधान और अपराधियों पर नियंत्रण के लिए हमने फैसला किया है. प्रदेश के 2 बड़े महानगरों में राजधानी भोपाल और स्वच्छ शहर इंदौर में हम पुलिस कमिश्नर सिस्टम लागू कर रहे हैं. ताकि अपराधियों पर और बेहतर नियंत्रण कर सकें.

गौरतलब है कि पुलिस कमिश्नर सिस्टम के पिरामिड में पुलिस महानिदेशक, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, एडीजी स्तर के अधिकारी को पुलिस कमिश्नर बनाया जा सकता है. उसके नीचे एडीजी या आईजी स्तर के दो ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर होंगे. पिरामिड में एडिशनल पुलिस कमिश्नर होंगे. इसकी जिम्मेदारी आईजी या डीआईजी स्तर अफसरों को मिलेगी. डिप्टी पुलिस कमिश्नर डीआईजी या एसपी स्तर के होंगे. जूनियर आईपीएस या वरिष्ठ एसपीएस अधिकारियों को असिस्टेंट पुलिस कमिश्नर बनाया जा सकेगा.

वहीं प्रदेश के गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि इन दोनों शहरों में बढ़ती आबादी और अपराध को देखते हुए पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू करने का फैसला किया है. मैं गृहमंत्री होने के नाते मुख्यमंत्री का आभार जताता हूं. इंदौर और भोपाल की जनता को प्रयोग के तौर पर नई प्रणाली का लाभ मिलेगा. नए जमाने के क्राइम, सोशल मीडिया, आईटी से जुड़े क्राइम को काबू करने में नया सिस्टम मददगार साबित होगा.

संबंधित पोस्ट

अयोध्या से तीन दिवसीय यूपी दौरे की शुरुआत करेंगे असदुद्दीन ओवैसी

navsatta

कोरोना की रफ्तार थामने के लिए रविवार को तालाबंदी,डीआरडीओ बनाएगा 1000 बेड का कोविड अस्पताल

navsatta

जल जीवन मिशन ने बुंदेलखंड के बड़े हिस्से का जीवन बदला : पीएम मोदी

navsatta

Leave a Comment