Navsatta
अपराधखास खबरचर्चा मेंन्यायिकराज्य

महंत नरेंद्र गिरी मौत मामला: मुख्य आरोपी आनंद गिरि की जमानत अर्जी पर आज होगी सुनवाई

प्रयागराज,नवसत्ता : अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत मामले में मुख्य आरोपी आनंद गिरि ने कोर्ट में जमानत अर्जी दाखिल की है. जिस पर आज सुनवाई होगी. ऐसे में आरोपियों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेशी कराई जाएगी. बता दें कि नैनी जेल में बंद तीनों आरोपियों आनंद गिरि, आद्या प्रसाद तिवारी और संदीप तिवारी की न्यायिक हिरासत आज पूरी हो रही है. इसके साथ ही ज्यूडिशियल कस्टडी रिमांड बढ़ाए जाने को लेकर भी सुनवाई होगी.

ऋषि शंकर द्विवेदी से अभी और पूछताछ करेगी सीबीआई
महंत नरेंद्र गिरी के वकील ऋषि शंकर द्विवेदी पिछले 17 साल से महंत नरेंद्र गिरी से जुड़े हुए थे. उनका दावा है कि तमाम विषयों पर बातचीत के लिए महंत नरेंद्र गिरी खुद उनके चैंबर आते थे और उनसे बातचीत करते थे. ऋषि शंकर द्विवेदी के मुताबिक सीबीआई अभी उनसे और भी पूछताछ करेगी. क्योंकि सड़क हादसे में दुर्घटना की वजह से उनका पैर फ्रैक्चर है इसलिए सीबीआई उनके घर में ही उनसे पूछताछ कर रही है. इस मामले में सीबीआई ने ऋषि शंकर द्विवेदी के पिता और जिला कचहरी के सीनियर वकील पंडित महादेव प्रसाद द्विवेदी से भी पूछताछ की है. क्योंकि महादेव प्रसाद द्विवेदी भी सन् 1980 से महंत नरेंद्र गिरी से जुड़े थे.

मठ और मंदिर के पास 200 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति
महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत के बाद पंडित महादेव प्रसाद द्विवेदी ने ही उनकी तमाम संपत्तियों के बारे में जानकारी दी थी. उन्होंने इस बात की जानकारी दी थी कि मठ और मंदिर के पास 200 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति है. उन्होंने बताया था कि महंत नरेंद्र गिरी ने गंगापार के झूंसी, कौशांबी, यमुनापार के करछना के साथ ही रायबरेली में भी जमीन खरीद रखी है. अब तक सीबीआई इस मामले में तीनों आरोपियों मुख्य आरोपी आनंद गिरी, आद्या प्रसाद तिवारी और संदीप तिवारी से पूछताछ कर चुकी है.

बता दें कि इससे पहले आरोपियों का पॉलीग्राफी टेस्ट कराने की मंजूरी के लिए दाखिल सीबीआई की अर्जी सीजेएम कोर्ट ने खारिज कर दी है. इसके लिए आरोपियों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेशी कराई गई थी. मामले की जांच कर रही सीबीआई कोर्ट को विवेचना में आये नये तथ्यों की जानकारी देगी. गौरतलब है कि महंत नरेंद्र गिरि को आत्महत्या के लिए उकसाने के तीनों आरोपी नैनी सेंट्रल जेल में बंद हैं.

संबंधित पोस्ट

भीड़ के प्रतीक कुम्भ मेले का सुपर डिजिटल कंट्रोल रूम नीलधारा

navsatta

यूपी में कल से कोरोना कर्फ्यू में राहत, दफ्तरों में आएंगे सभी कर्मचारी

navsatta

धरने पर बैठे राजस्थान के बेरोजगार, कांग्रेस ने की टेंट व चाय की व्यवस्था

navsatta

Leave a Comment