Navsatta
खास खबरदेशराज्य

केरल के 11 जिलों में बारिश का कहर, अब तक 11 लोगों की मौत, राहत-बचाव कार्य जारी

नई दिल्ली,नवसत्ता: केरल में बारिश कहर बनकर लोगों पर बरसी है. दक्षिण और मध्य केरल में भारी बारिश के बाद कम से कम अब तक 11 लोगों की मौत हो गई है. वहीं कोट्टयम और इडुक्की जिलों के पहाड़ी इलाकों में भूस्खलन में कई लोगों के लापता होने की आशंका है.

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि भारी बारिश को देखते हुए 11 जिलों में अलर्ट जारी कर दिया गया है. कवाली और कोट्टायम में मलबे में लापता लोगों के लिए सेना के जवानों द्वारा बचाव अभियान जारी है. राज्य के सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के अनुसार, कोट्टायम जिले के कूट्टिकल में भूस्खलन से दो और शव बरामद, मरने वालों की संख्या बढ़कर 11 हो गई.

केरल के 11 जिलों तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पठानमथिट्टा, कोट्टायम, अलाप्पुझा, एर्नाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर, पलक्कड़, मलप्पुरम और कोझीकोड में भारी बारिश को लेकर येलो अलर्ट जारी किया है. नेवी चॉपर पहले से ही आईएनएस गरुड़ से बारिश प्रभावित क्षेत्रों की ओर राहत सामग्री पहुंचाने का काम कर रहा है. वायुसेना स्टेशन, शंगमुघम में दो वायु सेना हेलिकॉप्टर एमआई-17 स्टैंडबाय पर हैं.

इसके साथ ही इंजीनियरिंग और चिकित्सकों के साथ डीएससी केंद्र, कन्नूर से सेना के जवानों का एक दल बचाव कार्यों के लिए वायनाड पहुंचा. वहीं, बेंगलुरु से इंजीनियरिंग टास्क फोर्स के जल्द ही वायनाड पहुंचने की उम्मीद है. सेना द्वारा अब तक कुल 3 कॉलम तैनात किए गए.

राज्य में भारी बारिश से मची तबाही पर केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने कहा, लोगों से बारिश से बचने के लिए सभी सावधानियां बरतने का अनुरोध किया गया है. पूरे राज्य में राहत बचाव के 105 कैंप लगाए गए हैं. साथ ही और अधिक कैंप लगाने की व्यवस्था की जा रही है. उन्होंने कहा, केंद्रीय जल आयोग के अनुसार, पठानमथिट्टा, कोट्टायम और तिरुवनंतपुरम जिलों में मैडमॉन, कल्लुपारा, थुम्पमन, पुलकायार, मानिक्कल, वल्लाइकडावु और अरुविपुरम बांधों में जल स्तर बढ़ रहा है.

भारतीय वायु सेना ने बताया कि केरल के बारिश प्रभावित जिलों में बाढ़ राहत प्रयासों के लिए मीडियम लिफ्ट हेलीकॉप्टर भी शामिल किए गए हैं. मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने केरल की राजधानी में एक आपातकालीन बैठक के बाद कहा था कि राज्य के कुछ हिस्सों में स्थिति वास्तव में गंभीर है. लगातार लोगों की जान बचाने के लिए हर संभव कोशिश की जा रही है. एर्नाकुलम जिले में भारी बारिश के कारण मुवत्तुपुझा नदी का जलस्तर बढ़ गया है. भारत मौसम विज्ञान विभाग ने आज जिले के लिए ‘येलो’ अलर्ट जारी किया है.

वहीं, गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि वह भारी बारिश और बाढ़ के मद्देनजर केरल के कुछ हिस्सों में स्थिति की लगातार निगरानी कर रहे हैं. केंद्र सरकार जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए हर संभव मदद करेगी. बचाव कार्यों में मदद के लिए एनडीआरएफ की टीमें पहले ही भेजी जा चुकी हैं. उन्होंने कहा कि सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना कर रहे हैं.

संबंधित पोस्ट

यूपी के पांच जिलों में शत प्रतिशत, 21 जिलों में 90 फीसदी पूरा हुआ डिजिटल क्रॉप सर्वे

navsatta

गुरुओं को शीश नवा अयोध्या पहुंचे योगी, रामलला और हनुमानगढ़ी के किये दर्शन

navsatta

चौधरी भूपेंद्र सिंह ने मंत्रिमंडल से इस्तीफा देकर प्रदेश अध्यक्ष का कार्यभार संभाला

navsatta

Leave a Comment