Navsatta
खास खबरदेशराजनीतिस्वास्थ्य

अब हर नागरिक के पास होगा अपना हेल्थ कार्ड, पीएम मोदी ने लॉन्च किया आयुष्मान भारत डिजिटल स्वास्थ्य मिशन

नई दिल्ली,नवसत्ता : भारत में स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन की शुरुआत की. पीएम मोदी ने कहा कि अब हर नागरिक के पास डिजिटल हेल्थ आईडी होगी. जिससे मरीज और डॉक्टर पुराने रिकॉर्ड को जरूरत पडऩे पर चेक कर सकते हैं. इसमें डॉ, नर्स, पैरा मेडिक जैसे साथियों का भी रजिस्ट्रेशन होगा. साथ ही गांवों की चिकित्सा सेवाओं में सुधार होगा. उन्होंने कहा कि आज गांव और घर के निकट ही प्राइमरी हेल्थ केयर से जुड़े नेटवर्क को सशक्त किया जा रहा है.

प्रधानमंत्री का आज का ये कार्यक्रम वल्र्ड टूरिज्म डे पर आयोजित हो रहा है. जिस पर प्रधानमंत्री ने कहा, कुछ लोग सोच सकते हैं कि हेल्थ केयर के प्रोग्राम का टूरिज्म से क्या लेना देना? लेकिन हेल्थ का टूरिज्म के साथ एक बड़ा मजबूत रिश्ता है. क्योंकि जब हमारा हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर इंटीग्रेटेड होता है, मजबूत होता है, तो उसका प्रभाव टूरिज्म सेक्टर पर भी पड़ता है.
पीएम मोदी ने अपने सम्बोधन में कहा कि आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन अस्पतालों में प्रक्रियाओं को आसान बनाने के साथ ईज ऑफ लिविंग भी बढ़ाएगा. उन्होंने कहा, अस्पताल जाते समय कई लोगों के पास मेडिकल रिकॉर्ड नहीं होता है. ऐसे में डॉक्टरी सलाह लेने में खर्च भी बढ़ता है और समय भी ज्यादा लगता है. इससे लोगों को काफी परेशानी होती है. आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन इस तरह की दिक्कतों से मुक्ति दिलाने में मदद करेगी.

पीएम मोदी ने कहा कि आज गांव और घर के निकट ही प्राइमरी हेल्थ केयर से जुड़े नेटवर्क को सशक्त किया जा रहा है. अभी तक ऐसे 80,000 सेंटर चालू हो चुके हैं. उन्होंने कहा कि बेहतर मेडिकल सिस्टम के साथ ही ये भी जरूरी है कि गरीब और मध्यम वर्ग का दवाओं पर कम से कम खर्च हो. इसलिए केंद्र सरकार ने जरूरी दवाओं, सर्जरी के समान, डायलिसिस जैसी अनेक सेवाओं और समान को सस्ता रखा है.

पीएम मोदी ने कहा कि भारत के हेल्थ सेक्टर को ट्रांसफॉर्म करने के लिए मेडिकल एजुकेशन में भी अभूतपूर्व रिफॉम्र्स हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि 7-8 साल में पहले की तुलना में आज अधिक डॉक्टर्स और पैरामेडिकल मैनपावर देश में तैयार हो रही है.

संबंधित पोस्ट

उपजिलाधिकारी ने गांव में जाकर ली स्वास्थ्य सेवाओं की जानकारी

navsatta

रिलायंस जियो के सात साल और सात इंपेक्ट

navsatta

पुलित्जर विजेता कश्मीरी पत्रकार की विदेश यात्रा पर लगी रोक

navsatta

Leave a Comment