Navsatta
अपराधक्षेत्रीयखास खबरचर्चा मेंराज्य

मुख्तार अंसारी के करीबी का 10 करोड़ का शॉपिंग मार्ट ध्वस्त

मऊ,नवसत्ता : मऊ सदर विधानसभा सीट से बाहुबली विधायक और बांदा जेल में बंद माफिया मुख्तार अंसारी पर प्रशासन ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. आज सुबह सिटी मजिस्ट्रेट के आदेश पर मुख्तार के करीबी और ठेकेदार उमेश सिंह के शॉपिंग मार्ट पर प्रशासन का बुलडोजर चला. करीब 10 करोड़ रुपये की लागत से बना यह मार्ट पिछले कई वर्षों से संचालित हो रहा था.

दरअसल, मऊ सिटी मजिस्ट्रेट के न्यायालय में अवैध तरीके से निर्माण करने का मुकदमा स्टेट बनाम उमेश सिंह, अजय सिंह, विजय सिंह, विनय सिंह के विरुद्ध चल रहा था. जिसकी सुनवाई करते हुए शुक्रवार को कोर्ट ने ध्वस्तीकरण का आदेश जारी किया.

आदेश के क्रम में आज सुबह शहर कोतवाली क्षेत्र के भीटी में बने मेगा मार्ट के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई शुरू हुई. एडीएम के हरि सिंह, सीओ सिटी धनंजय मिश्रा, ईओ नगर पालिका दिनेश कुमार, शहर कोतवाल डीके श्रीवास्तव, सरायलखंसी एसओ राम सिंह, हलधरपुर एसओ निहार नंदन सिंह सहित नगर पालिका कर्मचारी और भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहे. इस संबंध में सीओ सिटी धनजंय मिश्रा ने बताया कि सिटी मजिस्ट्रेट के आदेश के क्रम में अवैध निर्माण को ध्वस्त कराया जा रहा है.

बता दें कि मुख्तार अंसारी गिरोह के करीबी और त्रिदेव ग्रुप के मालिक कोयला माफिया उमेश सिंह मन्ना सिंह हत्याकांड में आरोपी है. मऊ प्रशासन ने इससे पहले भी कई मौके पर उमेश की करोड़ों रुपये की संपत्ति को सीज कर जब्त कर चुकी है. बीते वर्ष अक्तूबर माह में कोपागंज थाना क्षेत्र के अदरी स्थित त्रिदेव धर्म कांटा व कोल डिपो को जिला प्रशासन ने जब्त किया था. उमेश सरायलखंसी थाने के अहिलाद गांव का निवासी है.

संबंधित पोस्ट

रक्षा उद्योग और समुद्री सुरक्षा क्षेत्र में सहयोग बढ़ाएंगे भारत और वियतनाम

navsatta

अजब मिशन की गजब कहानी- ब्यूटी पार्लर और वेल्डिंग वाले कर रहे पानी की जांच का काम

navsatta

अयोध्या धाम में अपने महल में विराजे श्रीराम लला

navsatta

Leave a Comment